बचत खाता (Saving Account) क्या है?

बचत खाता (Saving Account) क्या है? (What is Saving Account in Hindi) सेविंग अकाउंट के फायदे? सेविंग अकाउंट कैसे ओपन करें? All about saving account in hindi? जानना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपको अंत तक जरूर पढ़ना चाहिए.

क्योंकि आपको इन सभी सवालों के जवाब आसान शब्दों में इस लेख में मिलने वाले हैं। आज बैंक अकाउंट खुलवाना काफी आसान हो चुका है, आपको याद हो कुछ साल पहले प्रधानमंत्री मोदी ने जन धन योजना शुरू की थी जिसका उद्देश्य भारत के उन ग्रामीण इलाकों मे जहां लोगों का बैंक अकाउंट नहीं है उन्हें भी Banking सुविधाएं प्रदान करना था।

इसलिए आज एक कम उम्र के छात्र से लेकर घर के बड़े, बुजुर्ग हर किसी के पास हम एक बैंक अकाउंट देख सकते हैं! लेकिन यदि आपने अपना बैंक खाता open नहीं करवाया है, तो हम आपको आज Savings अकाउंट ओपन करने की पूरी प्रोसेस बताएंगे!

साथ ही इस लेख के अंत में हम saving अकाउंट और current अकाउंट अर्थात बचत खाता और चालू खाते के बीच के अंतर को भी जानेंगे! तो आइए दोस्तों आर्टिकल की शुरुआत करते हैं और जानते हैं की बचत खाता (Saving Account) क्या है? (What is Saving Account in Hindi) सेविंग अकाउंट के फायदे? सेविंग अकाउंट कैसे ओपन करें? All about saving account in hindi?

बचत खाता (Saving Account) क्या है? – What is Saving Account in Hindi

सेविंग अकाउंट एक डिपॉजिट अकाउंट होता है जिसे हम हिंदी में बचत खाता भी कहते हैं। एक सामान्य व्यक्ति Savings अकाउंट खुलवा कर कमाई गई पूंजी को बैंक में रखकर save कर सकता है। इस खाते के तहत आपके द्वारा जमा की गई राशि में आपको ब्याज मिलता रहता है।

तथा जरूरत पड़ने पर Savings अकाउंट में जमा किए गए पैसों को आसानी  से निकाला भी जा सकता है। एक Savings अकाउंट बैंक खाते का एक सामान्य प्रकार है इसलिए सामान्यतया आपको अधिकतर  सेविंग अकाउंट देखने को ही मिलते होंगे। वर्तमान समय में  कई बैंक अपने ग्राहकों की सुविधा हेतु खास सुविधाओं के साथ विभिन्न प्रकार की Savings अकाउंट खुलवाने की सुविधा दे रहे हैं।

आजकल Savings अकाउंट बच्चे बड़े, बुजुर्ग, महिलाएं आसानी से ओपन कर सकते हैं! और इनमें कई सारे फायदे जैसे कि उच्च ब्याज दर, locker चार्ज पर छूट तथा ATM से जब चाहो तब पैसा निकालने जैसी सुविधाएं प्रदान की जाती हैं। दोस्तों आपके जमा किए गए पैसों पर दी जाने वाला ब्याज  दर 3 से 4 % हो सकती है! हालांकि विभिन्न बैंक समय-समय पर ब्याज की दर को कम या अधिक कर सकते हैं।

यदि आपका अब तक Savings अकाउंट नहीं था और अब आपने भी किसी बैंक में Savings अकाउंट ओपन खुलवाने का मन बना लिया है तो अब हम जानते हैं!

Required Documents For Saving Account In Hindi

Address Proof

एक नया बैंक अकाउंट ओपन करने के लिए आपको एड्रेस proof की आवश्यकता होगी! तो इसके लिए आप अपने आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Identity Proof

अपनी पहचान साबित करने के लिए आप पहचान पत्र के तौर पर Voter आईडी कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा दो latest passport साइज फोटो की आवश्यकता होगी।

तो आपके पास उपरोक्त दस्तावेज हैं तो आप PNB, SBI, ICICI या किसी बैंक मैं savings अकाउंट खुलवाना चाहते हैं तो चलिए जानते हैं!

Saving Account Kaise Khole?

सबसे पहले आप उस बैंक की शाखा पर जाएं जिस बैंक से आप अपना Savings अकाउंट ओपन करवाना चाहते हैं। आपको सेविंग अकाउंट ओपन करने के लिए एक फार्म लिया जाएगा!

आपको इस फॉर्म को ध्यानपूर्वक भरना होगा इस फॉर्म को black या blue Pen से ही भरें! और गलती ना हो पाए इसका ध्यान रखें। अब जो ऊपर दस्तावेज बताएं गए हैं उन सभी दस्तावेजों की आवश्यकता वहां Savings अकाउंट खोलने के लिए पड़ेगी।

अब इस फॉर्म के साथ अपने सभी डाक्यूमेंट्स की फोटो कॉपी को अटैच कर दीजिए! और उसे बैंक प्रतिनिधि को दे दीजिए। बस हो गया!! कुछ दिनों का इंतजार करें फॉर्म जमा करने के 7 से 12 दिनों के भीतर आपका Savings अकाउंट ओपन हो जाएगा।

आप यह पहले ही पता कर लें कि उस अकाउंट में खाता खोलने के लिए आपको कितने रुपए की आवश्यकता होगी!

सेविंग अकाउंट के प्रकार – Types Of Saving Account In Hindi

Regular Savings Account

यह सेविंग अकाउंट का सबसे सामान्य प्रकार है जिसके अंतर्गत आपके द्वारा अपने अकाउंट में जमा की गई राशि पर आपको इंटरेस्ट (ब्याज) मिलता है! ग्राहक अपने बैंक में जमा राशि को कभी भी निकाल सकता है लेकिन निकालने की लिमिट होती है!

Salary Account

जैसा कि नाम से ही पता चलता है इस प्रकार का अकाउंट उन कर्मचारियों के लिए ओपन किया जाता है उनके अकाउंट में सैलरी receive होती है! इस प्रकार के अकाउंट में किसी मिनिमम बैलेंस की आवश्यकता नहीं होती। बता दें यदि इस प्रकार के अकाउंट में 3 महीने तक कोई सैलरी नहीं आती है तो फिर यह सामान्य सेविंग अकाउंट में तब्दील (convert) हो जाता है!

Senior Citizen Savings Account

यह खाता बुजुर्गों के लिए है जिसमें बैंक द्वारा उन्हें अधिक इंटरेस्ट रेट एवं स्पेशल privileges दिए गए हैं! सीनियर सिटीजन अकाउंट को पेंशन फंड्स के साथ लिंक कर साथ है साथ ही इसे भी अपने सेविंग अकाउंट के साथ आसानी से मैनेज कर सकते हैं.

Children and Minor Savings Account

रेगुलर Savings खाते की तरह यह खाता काम करता है लेकिन इसमें कोई मिनिमम बैलेंस की जरूरत नहीं होती! इस प्रकार के खाते का उद्देश्य पेरेंट्स को future में बच्चों को वित्तीय रूप से सिक्योर बनाने के लिए किया जा सकता है।

Women Savings Account

आज देशभर में विभिन्न बैंक महिलाओं के लिए बैंक अकाउंट खोलने की सुविधा दे रहे हैं! ताकि महिलाएं खुद का स्टार्टअप, उद्योग शुरू करने के लिए  high value loan आकर्षक इंटरेस्ट रेट के साथ ले सकें! साथ ही रेगुलर सेविंग अकाउंट की तरह इसमें भी सभी सुविधाएं महिलाओं को इस खाते में मिल जाती हैं!

करंट अकाउंट और सेविंग अकाउंट में अंतर – Difference Between Current Account & Saving Account in Hindi

करंट अकाउंट का उपयोग विशेषकर कंपनी, इंटरप्राइज बिजनेसमैन द्वारा लेन-देन हेतु किया जाता है! इस प्रकार के खाते में लेनदेन समय अनुसार होता रहता है.

Savings account और Current अकाउंट के बीच के अंतर को समझने के लिए निम्नलिखित बिंदु सहायक होंगे।

Purpose

एक तरफ Savings अकाउंट खुलवाने का मकसद ग्राहकों को बचत करने एवं आवश्यकता पर पैसे का इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया है। वहीं दूसरी ओर करंट अकाउंट का इस्तेमाल तब किया जाता है जब नियमानुसार अधिक मात्रा में लेन देन करना हो तो इस प्रकार के खाते को खोला जाता है।

Interest

क्योंकि Savings अकाउंट और करंट अकाउंट दोनों को खोलने का उद्देश्य अलग अलग है! इसलिए जहां Savings अकाउंट में हमें 3 से 6 % तक का ब्याज मिल जाता है! वहीं दूसरी तरफ करंट अकाउंट में ब्याज नहीं मिलता!

Transition Limit

यदि आप Savings अकाउंट ओपन करवाते हैं तो आपको लेने देन की लिमिट है, परंतु करंट खाते को अधिक ट्रांजैक्शन के लिए ही बनाया गया है इसलिए इसमें कोई लिमिट नहीं होती आप जब चाहे जितना चाहे करंट खाते से उतना लेन देन कर सकते हैं।

Balance

एक तरफ सेविंग अकाउंट का आप काफी कम राशि में भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जबकि करंट अकाउंट को मेंटेन रखने के लिए आपको Savings अकाउंट की तुलना में अधिक मिनिमम बैलेंस इस अकाउंट में होने चाहिए!

सेविंग अकाउंट में कितने पैसे रख सकते हैं?

Savings अकाउंट में मिनिमम बैलेंस होना जरूरी है! अन्यथा आपके धन में कटौती हो सकती है साथ ही अन्य बैंकिंग सुविधाओं को लेने में भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

सभी बैंकों में मिनिमम बैलेंस की लिमिट अलग अलग होती है!  सामान्यतः किसी बैंक में ₹500 तक मिनिमम बैलेंस होना चहिए! अगर ₹500 से कम पैसा आपके Savings अकाउंट में है तो बैंक द्वारा आप पर जुर्माने के तौर पर बकाया धनराशि को काटा जाएगा! हालांकि यह सरकारी योजनाएं जैसे जनधन खाते पर लागू नहीं होती!

सेविंग अकाउंट में अधिकतम कितने पैसे जमा कर सकते हैं?

जिस तरह मिनिमम बैलेंस होना खाते में अनिवार्य है, उसी तरह आपके खाते में बैलेंस यदि आवश्यकता से अधिक आपने जमा कर दिया है! तो आपको उस पर टैक्स देना पड़ता है सामान्यतया एक बैंक आपको ढाई लाख तक रखने की अनुमति देता है! यदि आप इससे अधिक धनराशि जमा करना चाहते हैं तो ऐसे में आपको टैक्स देना पड़ेगा और टैक्स देने के बाद आप इसे आसानी से रख सकते हैं।

सेविंग अकाउंट के फायदे – Benefits Of Saving Account In Hindi

Save Your Money

पहले के समय में जहां घर की तिजोरी में पैसा रखना समझदारी मानी जाती थी! आज वही स्थान बैंक ले चुके हैं एक Savings अकाउंट खुलवा कर आप महीने के सभी खर्चों को मैनेज करने के साथ-साथ आपको अकाउंट में उपलब्ध बैलेंस पर ब्याज भी मिल जाता है!

क्योंकि आज एक बैंक विभिन्न प्रकार के Savings अकाउंट खोलने की सुविधा देते हैं! यदि आप Kids Savings अकाउंट ओपन करते हैं तो आप अपने बच्चे को बैंक किस तरह ऑपरेट किया जाता है इसमें इंटरेस्ट कैसे मिलता है ?इत्यादि जानकारी देकर वित्तीय शिक्षा दे सकते हैं जिससे आप बच्चे का भविष्य फाइनेंशली बेहतर बनाने की और कार्य कर सकते हैं!

Interest

मध्यमवर्गीय परिवारों को Savings अकाउंट खोलने के लिए सबसे अधिक प्रेरित करता है इंटरेस्ट. कमाई गई राशि save होने के साथ-साथ उस पर ब्याज भी मिले हर कोई चाहता है! अतः Savings अकाउंट खोलने का एक बड़ा फायदा मिलता है कि यहां पर आपको बैंकों द्वारा इंटरेस्ट रेट दिया जाता है।

Value Added Services

Savings अकाउंट ओपन करने के बाद आपको बैंक की तरफ से कई Value added servicss भी दी जा जाती है! आजकल कई बैंक ग्राहकों को यह सुविधा दे रहे हैं जैसे कि आज के दौर में online शॉपिंग पर कई बैंक कैशबैक, reward दे रहे हैं! साथ ही कुछ बैंक मेडिकल, इंश्योरेंस, एक्सीडेंट कवर्स , अकाउंट खुलवाते समय सुविधा देते हैं!

इसके अलावा एक सेविंग अकाउंट आपको नेट बैंकिंग, चेक बुक फैसिलिटी इत्यादि भी देता है!

दोस्तों न सिर्फ अपनी कमाई गई पूंजी को बचत के लिए और उस बचत से मिलने वाले लाभ के लिए बल्कि Savings अकाउंट के और भी कई फायदे हैं और बेहतर तरीके से समझने के लिए हम इसके अन्य फायदे जानेंगे !

Locker Fee Discount

कई लोग बहुमूल्य चीजें जैसे गोल्ड ज्वेलरी या अन्य कीमती चीजों को सुरक्षित रखने के लिए बैंक लॉकर लेते हैं। वर्तमान समय में बैंक 15 से लेकर 30 परसेंट तक लॉकर fee पर डिस्काउंट दे रहे हैं! अतः जिन ग्राहकों के अकाउंट में मिनिमम बैलेंस हैं उन्हें इसका फायदा मिलेगा.

Family Account Benefit

घर के यदि किसी दो सदस्यों का बैंक अकाउंट किसी एक बैंक में है तो वह बैंक आपको दोनों बैंकों में जमा राशि को एक ही बैंक में जमा करने तथा कोष में वृद्धि की सुविधा देता है!

Other Services

आपके बैंक में Savings अकाउंट है तो आपको और भी कई सारे फायदे, सुरक्षा बैंक की तरफ से दी जाती है जैसे life insurance, accident, hospitalization and death cover आपको इन सुरक्षाओं को पाने के लिए नियमित रूप से प्रीमियम भरते रहना होता है।

Help Incase You Are In Trouble

Savings अकाउंट खोलने का एक फायदा आपको उस स्थिति में भी हो सकता है जब आप ठगी के शिकार हो चुके हो! जहां आपके डेबिट कार्ड का missuse हो गया या किसी ने चोरी कर लिया हो तो बैंक purchase protection clause के तहत आपको उचित सहायता प्रदान करती करती है।

Education Insurance For Children

आपने अपने बच्चे के नाम पर अकाउंट खुलवाया तो उसे आप अपने सेविंग अकाउंट से लिंक कर सकते हैं! ऐसा तभी संभव है यदि दोनों अकाउंट किसी एक ही बैंक में हूं इससे आपका बच्चा एजुकेशन इंश्योरेंस कवर के लिए योग्य होगा।

Interest Rate

सेविंग अकाउंट का एक बड़ा फायदा है कई सारे बैंक ऐसे हैं जो 6-7% तक का इंटरेस्ट देते हैं! और कई बार किसी fixed डिपॉजिट स्कीम की तुलना में कई बैंकों का इंटरेस्ट अधिक फायदेमंद साबित होता है!

Gold Coin

यदि आपके पास Savings अकाउंट है और आप बैंक के माध्यम से सोने के सिक्के खरीदते हैं तो आपको 2 से 5 परसेंट का Rebate (छूट) मिलता है! हालांकि यह सुविधा उन ग्राहकों को दी जाती है जिनके खाते में अधिक बैंक बैलेंस हो!

ATM Service

ATM सर्विस की वजह से आज हम आसानी से अपने बैंक अकाउंट का पैसा Withdraw कर पाते हैं! और तो यदि आपके पास एक saving अकाउंट है तो आपको यह सुविधा भी बैंक का प्रदान करता है!

International Card

आप अपने सामान्य डेबिट कार्ड को इंटरनेशनल डेबिट कार्ड के रूप में कन्वर्ट कर सकते हैं! और internationally पैसों का लेन देन कर सकते हैं! विशेषकर यह तब फायदेमंद होता है जब आप ऑनलाइन एक देश से दूसरे देश में प्रोडक्ट & सेवाओं को purchase या sell करते हैं!

तो साथियों savings अकाउंट के इन सभी फायदों को जान लेने के बाद आप भली-भांति समझ चुके होंगे कि Saving Account क्या है? & savings अकाउंट खोलना आपके लिए किस तरह फायदेमंद है! आशा है मुझे आज इस लेख में आपको सेविंग अकाउंट से संबंधित पूरी जानकारी मिली होगी.

और आप जान गये होगे की बचत खाता (Saving Account) क्या है? (What is Saving Account in Hindi) सेविंग अकाउंट के फायदे? सेविंग अकाउंट कैसे ओपन करें? All about saving account in hindi? 

यह भी पढ़े:

Hope की आपको बचत खाता (Saving Account) क्या है – What Is Saving Account In Hindi? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।

अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *