चालू खाता (Current Account) क्या है?

चालू खाता (Current Account) क्या है? (What is Current Account in Hindi) Current Account क्या है? Current अकाउंट कैसे Open करें? चालू खाते के फायदे? All about current account in hindi. यह सभी सवालों के जवाब पाना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए है।

दोस्तों जब भी एक ग्राहक किसी बैंक में अपना खाता खुलवाता है तो खाता खुलवाने से पूर्व उससे पूछा जाता है कि आप किस type का अकाउंट खुलवाना चाहते हैं Savings या Current.

यदि ग्राहक को यह पता ही ना हो कि इन दोनों के बीच अंतर क्या है? तो ऐसे में वह उलझन में आ सकता है इसलिए उनकी इस समस्या को दूर करने के लिए आपको बारीकी से Current अकाउंट के बारे में इस लेख में जानकारी मिलेगी .

नमस्कार दोस्तों पिछले लेख में हमने आपको विस्तार से बताया था कि Savings अकाउंट क्या है और आज हम जानने वाले हैं Current अकाउंट के बारे में चलिए शुरू करते हैं और देखते है की आख़िर चालू खाता (Current Account) क्या है? (What is Current Account in Hindi) Current Account क्या है? Current अकाउंट कैसे Open करें? चालू खाते के फायदे? All about current account in hindi. 

चालू खाता (Current Account) क्या है? – What is Current Account in Hindi

Current Account को अंग्रेजी में डिमांड डिपॉजिट अकाउंट के नाम से भी जाना जाता है! और हम मातृभाषा में इसे चालू खाता भी कहते हैं। यदि हमारा उद्देश्य बैंक के माध्यम से पैसों की बचत करना एवं ब्याज की दर से लाभ कमाना हो तो हम Savings अकाउंट खोलते है।

लेकिन दूसरी तरफ Current अकाउंट की जरूरत उन व्यापारियों को होती है जो रोजाना बैंक के जरिए बड़ी मात्रा (Amount) में लेनदेन करते हैं। अतः जब भी बात होती है Current अकाउंट ओपन करने की तो इसका अर्थ है कि कोई कंपनी, संस्था, इंटरप्राइजेज या व्यापारी नियमित तौर पर उसे बड़े अमाउंट का ट्रांजैक्शन बैंक से करना है।

मान लें आपकी कोई कंपनी है यदि उस कंपनी में ग्राहकों द्वारा बड़े पैमाने पर cheques जमा किए जाते हैं तो उन चेक्स को आसानी से Current अकाउंट के जरिए डिपाजिट (जमा) किया जा सकता हैं। करंट अकाउंट से जब भी आवश्यकता हो उतनी बार आप ट्रांजैक्शन कर सकते हैं! इसकी कोई लिमिट नहीं होती। आप  चालू खाते से लेन देन्न, deposits, withdrawals, and contra transactions. कर सकते है।

संक्षेप में कहें तो Current अकाउंट को लेनदेन के लिए ही सिर्फ बनाया जाता है अतः Current अकाउंट में आप जो भी पैसा रखते हैं उस पर आपको कोई इंटरेस्ट नहीं मिलता। भारत में आप Current अकाउंट को 5000 से ₹25000 के साथ शुरुआत कर सकते हैं।

तो Current अकाउंट क्या है? यह समझने के बाद अब जानते हैं current account के features के बारे में।

Features of Current Account in Hindi

• व्यापार को चलाने के लिए Current अकाउंट व्यापारी द्वारा Open किया जाता है।
• एक बचत खाते की तुलना में चालू खाते का मिनिमम बैलेंस अधिक होता है।
• यदि आपने Current अकाउंट ओपन किया हुआ है और मिनिमम बैलेंस आपके खाते में नहीं है तो आप पर बैंक द्वारा पेनल्टी लगाई जा सकती है!
• बैंक ग्राहकों को चालू खाता किसी भी प्रकार की बचत के लिए प्रोत्साहित नहीं करता है इसका उद्देश्य लेनदेन को बढ़ावा देना होता है!
• Current अकाउंट मुख्यतया व्यापारियों को बिजनेस को चलाने में सहूलियत प्रदान करना है।
• आप अपने Current अकाउंट से जितना चाहे अमाउंट सेंड एंड रिसीव कर सकते हैं!
• आप अपने Current अकाउंट से जितनी बार भी लेनदेन करते उस पर कोई प्रतिबंध नहीं होती जबकि सेविंग अकाउंट में ऐसा नहीं होता!
• Current अकाउंट ओपन करने से पूर्व बैंक द्वारा आपसे KYC डॉक्यूमेंट मांगे जाते हैं तभी आप Current अकाउंट को ओपन कर सकते हैं।
• एक व्यापार में दो Current अकाउंट का उपयोग नहीं किया जा सकता।

साथियों यह थी कुछ विशेषताएं थी अब आप समझ चुके होंगे Current अकाउंट के बारे में अब हम जानते हैं कि किस तरह Current अकाउंट खोलना व्यापारियों के लिए फायदेमंद साबित होता है!

करंट अकाउंट के लाभ – Benefits Of Current Account In Hindi

Current अकाउंट एक सरकारी, निजी फर्म, कंपनी संस्थान द्वारा खोला जा सकता है अर्थात जहां रोजाना बड़ी संख्या में बैंक के माध्यम से लेनदेन होता हो। जब एक बिजनेसमैन द्वारा Current अकाउंट ओपन किया जाता है तो वह क्रेडिटर्स के साथ cheques इश्यू करने demand-drafts or pay-orders, जैसे कार्य कर सकते हैं।

नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, UPI जैसी सुविधाएं भी Current अकाउंट देता है।जिससे Current अकाउंट के माध्यम से लेनदेन प्रक्रिया को और भी आसान बनाया जा सके. Current अकाउंट में आप यदि होम ब्रांच में पैसे डिपाजिट करते हैं तो इसमें कोई लिमिट नहीं होती! इसके अलावा withdrawl में भी कोई लिमिट नहीं होती।

दोस्तों क्या आप जानते हैं? एक Savings अकाउंट की भांति ही बैंक द्वारा कस्टमर की need के मुताबिक विभिन्न प्रकार के Current अकाउंट ओपन किए जा सकते हैं! अतः आपको किस तरह का Current अकाउंट ओपन करना है यह जानने के लिए आपको सही अकाउंट टाइप चुनना होगा!  यहां पर एक Current अकाउंट के सभी टाइप्स की जानकारी दी गई है!

करंट अकाउंट के फ़ायदे – Types Of Current Account In Hindi

Standard Current Accounts

इस टाइप के Current अकाउंट में हर महीने औसतन बैलेंस होना चाहिए। इस प्रकार के बैंक अकाउंट को ओपन करने के बाद आपको cheque leaves, overdraft facility, debit cards, net banking, SMS banking etc. सुविधाएं मिलती हैं.

Packaged Current Accounts

तो जैसा की इसके नाम से आप अंदाजा लगा सकते हैं इस प्रकार के Current अकाउंट में आपको सुविधाएं पैकेज के साथ मिलती हैं! उदाहरण के तौर पर ऐसे  Current अकाउंट में आपको मेडिकल सपोर्ट, ट्रैवल इंश्योरेंस इत्यादि दिया जा सकता है।

Premium Current Account

ग्राहकों को प्रीमियम सुविधाएं प्रदान करना इस Current अकाउंट का कार्य होता है! इसमें कई सारी सुविधाएं offers एवं कस्टमाइज्ड फीचर्स एक अकाउंट होल्डर को मिलते हैं.

लेकिन इनका इस्तेमाल करना अधिकतर उन्हीं अकाउंट होल्डर्स के लिए फायदेमंद होता है जो बड़ी मात्रा में अपने अकाउंट से ट्रांजैक्शन करते हैं।

Foreign Currency Accounts

व्यक्तिगत तौर पर या बिजनेस में जहां पर बड़ी मात्रा में foreign करेंसी का लेनदेन होता है वहां पर इस प्रकार के Current अकाउंट ओपन करना बेहद फायदेमंद साबित होता है।

Single Column Cash Book

जब कोई बिजनेस संस्था इस प्रकार के Current अकाउंट को ओपन करती है! तो वह अन्य एकाउंट्स की तरह ट्रांजैक्शन तो कर सकती है परंतु ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी इसमें देखने को नहीं देखने को मिलती है। इस Current अकाउंट में डेली ट्रांजैक्शन अलग debit और credit columns के अंतर्गत होते हैं!

Required Documents For Current Account In Hindi

Current अकाउंट ओपन करने के लिए जरूरी दस्तावेज विभिन्न बैंकों के आधार पर अलग-अलग हो सकते हैं! यहां कुछ मुख्य दस्तावेज दिए गए हैं जो किसी भी बैंक द्वारा बैंक अकाउंट ओपन करने में इस्तेमाल होते हैं।

Address Proof

एड्रेस प्रूफ के तौर पर वोटर आईडी कार्ड, बिजली बिल, राशन कार्ड, बैंक स्टेटमेंट इन में से किसी को भी दे सकते हैं)

Identity Proof

आईडेंटिटी प्रूफ के लिए पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड किसी भी डॉक्यूमेंट को दे सकते हैं।)

Business Ownership Document

Current अकाउंट खुलवाने के लिए आपको यह वेरीफाई करना होगा कि आप एक बिजनेस के मालिक हैं! इसके लिए आपको कुछ डॉक्यूमेंट जैसे Partnership Deed (Partnership Firm के मामले में), MOA & AOA ( c Companies के लिए) Current अकाउंट खोलने के लिए एड्रेस प्रूफ के लिए इन दस्तवेजों की जरूरत होगी।

Address Proof of the Firm Certificate of Incorporation, Certificate by Sales Tax or Service Tax authorities (in case of Proprietorship Firm), Photograph. के साथ ही पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ की जरूरत होगी

तो चलिए अब हम step by step जानते हैं इन डाक्यूमेंट्स की सहायता से आप किस तरह अपना Current अकाउंट ओपन कर सकते हैं!

Current Account Kaise Khole?

Select A Bank

Current अकाउंट ओपन करने से पूर्व यह कंपैरिजन करना बेहतर रहेगा कि किस बैंक के अकाउंट में मिनिमम बैलेंस कितना होना चाहिए।

उसकी नेट बैंकिंग फैसेलिटीज कैसी है, लोन तथा ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी क्या है? फ्री चेक बुक के साथ ही उसमें ट्रांजैक्शन के लिए कौन-कौन सी फैसिलिटी मिलती हैं। तो यह जानने के बाद आप जिस भी बैंक में Current अकाउंट ओपन करना चाहते हैं आपको निम्न स्टेप्स फॉलो करने होंगे

Select Current Account Type

एक बिजनेसमैन की आवश्यकता एवं सुविधा के मुताबिक विभिन्न Current अकाउंट को बनाया गया है जिनके बारे में ऑलरेडी जान चुके हैं।

तो अब आपको अपने बिजनेस के लेनदेन के मुताबिक इस बैंक में किस प्रकार का Current अकाउंट ओपन करना है आप इसके लिए चाहे तो उस बैंक के कस्टमर केयर पर कांटेक्ट कर सकते हैं और अपने Current अकाउंट से संबंधित सारे सवाल जवाब जान लेने के बाद आप अपने लिए सही Current अकाउंट को सेलेक्ट कर सकते हैं।

Nearest Branch

अब अंत में आप जिस भी ब्रांच को select कर चुके हैं उस ब्रांच में बैंक अकाउंट ओपन करने के लिए आपको जाना होगा! आपको ब्रांच में अकाउंट ओपन करने के लिए एक फार्म दिया जाएगा इस फॉर्म को किस तरीके से भरना है इसके लिए भी प्रक्रिया वहीं से जान सकते हैं और उसके बाद फॉर्म को ध्यानपूर्वक भरें.

Documents

फॉर्म भरने के बाद जहां जहां पर सभी जरूरी डॉक्यूमेंट की आवश्यकता है!उनको अटैच करें और उसके बाद बैंक में फॉर्म को सबमिट कर दें!

बस हो गया इतना करते ही आपके डाक्यूमेंट्स के साथ आपको वेरीफाई करने के बाद आपके Current अकाउंट की डिटेल आपको को बैंक द्वारा कुछ समय बाद दे दी जाएगी। यदि आप उस बैंक के पहली बार कस्टमर बने हैं तो ऐसे मैं आपसे रेफरेंस के लिए भी पूछा जा सकता है।

साथियों इस तरह आप ऑफलाइन Current अकाउंट ओपन करने का तरीका जान चुके हैं अब हम आगे बढ़ते हैं और समझते हैं.

Online Current Account Kaise Open Kare?

एक Savings अकाउंट की तरह ही अब आप ऑनलाइन खुद का Current अकाउंट ओपन कर सकते हैं कहीं सारे बैंक अपने ग्राहकों को यह सुविधा दे रहे हैं! ऑनलाइन Current अकाउंट खुलवा के लिए आप इंटरनेट से ही विभिन्न बैंक द्वारा Current अकाउंट की लिए दी जाने वाली फैसिलिटी को चेक कर सकते हैं !उनके रिव्यूज पढ़ सकते और उससे सही Current अकाउंट का चुनाव कर सकते हैं.

अब सही बैंक का चुनाव करने के बाद अब आप जिस बैंक अकाउंट में ऑनलाइन Current खाता खोलना चाहते हैं! उसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं और Current अकाउंट ऑप्शन पर क्लिक करें! अब आपके Current अकाउंट को ओपन करने के लिए instant Current अकाउंट ओपनिंग की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी! और अकाउंट ओपन करने के लिए फॉर्म एवं डाक्यूमेंट्स को ऑनलाइन ही आप अपलोड कर वेरीफाई कर पाएंगे!

और इस तरह ऑनलाइन आपका Current अकाउंट बैंक online open हो जाएगा यह तरीका ऑफलाइन की तुलना में न सिर्फ फास्ट है बल्कि सुविधाजनक भी है।

करंट अकाउंट और सेविंग अकाउंट में अंतर – Difference Between Current Account & Saving Account in Hindi

दोस्तों अब तक हम Current अकाउंट के बारे में काफी कुछ जान चुके हैं अब हम यहां इन दोनों अकाउंट के बीच के फर्क को समझेंगे असल में इन दोनों के बीच काफी बड़ा अंतर है आइए समझते हैं!

• एक सेल्फ employed बिजनेसमैन के लिए Current अकाउंट को ओपन करना अधिक फायदेमंद एवं कुशल साबित होता है! वही एक Savings अकाउंट प्रत्येक व्यक्ती open सकता है जो बैंकिंग प्रणाली में भरोसा रखता हो और बैंक में अपने पैसे save करना चाहता हो!

• Current अकाउंट में हमें जहां कोई इंटरेस्ट नहीं मिलता! वहीं दूसरी तरफ सेविंग अकाउंट खुलवाने का बड़ा फायदा है कि हमारे जितने भी पैसे जमा होते हैं उस पर नियमित रूप से इंटरेस्ट मिलता है कई बैंक 7% दर का भी ब्याज देते हैं!

• एक Current खाता खुलवाने के लिए व्यक्ति की उम्र जहां 18 वर्ष बैंकों द्वारा निर्धारित की गई है वहीं एक सेविंग अकाउंट एक छोटे बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक कोई भी खुलवा सकता है!

• Current अकाउंट होल्डर होने के नाते आपके अकाउंट में हमेशा अधिक बैलेंस रहना चाहिए जबकि सेविंग अकाउंट को आप मिनिमम ₹500 जैसे कम अकाउंट में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

• Current अकाउंट में आपको ओवरड्राफ्ट सुविधा मिलती है, आपके अकाउंट में कितना बैलेंस है उससे अधिक भी आप अपने अकाउंट से withdraw (निकाल) कर सकते हैं! जबकि सेविंग अकाउंट में ऐसा नहीं होता आप केवल उन्हीं पैसों को निकाल पाते जो आपने जमा किए हैं! हालांकि वर्तमान में कुछ बैंक ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी सेविंग अकाउंट वालों को भी दे रहे हैं जिनके पास सैलरी अकाउंट है।

साथियों आज के इस पोस्ट में बस इतना ही हमें आशा है आपको चालू खाता (Current Account) के बारे में पूरी जानकारी मिल चुकी होगी, और आप जान गये होगे की चालू खाता (Current Account) क्या है? (What is Current Account in Hindi) Current Account क्या है? Current अकाउंट कैसे Open करें? चालू खाते के फायदे? All about current account in hindi.

यह भी पढ़े:

Hope की आपको चालू खाता (Current Account) क्या है? – What Is Current Account In Hindi? का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।

अगर आपके पास इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करे. और अगर पोस्ट पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दे.

The post चालू खाता (Current Account) क्या है? appeared first on FutureTricks.

The post चालू खाता (Current Account) क्या है? appeared first on Happy New Year 2021.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *